बाड़मेर में जम कर बरसे बादल, ट्रैन हुई प्रभावित 
बाड़मेर.
राजस्थान के बाड़मेर जिले में पिछले दो दिनों से मानसून की मेहरबानी से सोमवार को  शाम शुरू हुआ बारिश का दौर मंगलवार को भी जारी रहा। कहीं हल्की तो कई मूसलाधार वर्षा हुई। जगह-जगह जल भराव से जनजीवन प्रभावित रहा। दोपहर बाद बारिश बंद होने पर आमजन ने राहत की सांस ली। वहीं जिले में एक सप्ताह से मानसून की सक्रियता से किसानों के चेहरे खुशी से खिल उठे हंै। पिछले 24 घंटों में जिले के समदड़ी कस्बे में 188, सिवाना में 138, बालोतरा में 72, पचपदरा में 54 और बाड़मेर शहर में 34 मिमी पानी बरसा। 
समदड़ी क्षेत्र के चारणों का बाड़ा गांव के समीप रेलवे पटरियों के नीचे से मिट्टी खिसकने से करीब तीन घंटे तक बाड़मेर-जोधपुर रेल खंड की ट्रेने प्रभावित रही। समदड़ी व कल्याणपुर क्षेत्र के कईगांवों में जल भराव से कईपरिवारों को दूसरी जगह शरण लेनी पड़ी। सिवाना में अच्छी बारिश का दौर जारी है।
जोधपुर-जयपुर मार्ग की बसें रोकी
शाम करीब पांच बजे जोधपुर में जोरदार बारिश होने से बाड़मेर से रवाना हुई रोडवेज बसों को जोधपुर में ही रोक दिया गया।
लूनी को लेकर प्रशासन अलर्ट
सिवाना में 300 मिमी से ज्यादा बारिश हो चुकी है। करीब इतनी ही बारिश समदड़ी में हुई है। जिले की सरहद के रामपुरा गांव में तहसीलदार को तैनात कर दिया गया है। वे यहां से हर समय की रिपोर्ट प्रशासन को कर रहे है। प्रशासनिक अधिकारियेां को मानना है कि बांडी नदी का पानी आगे बढ़ता है और पाली व सिवाना की बारिश लगातार रही तो बुधवार को लूनी में पानी आ सकता है।
सबको चेतावनी, न छुट्टी पर रहे ना मुख्यालय छोडे़ं
बारिश को देखते हुए जिलेभर में सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को अलर्ट किया गया है कि वे बिना इजाजत न तो मुख्यालय छोड़ें और ना ही छुट्टी पर रहे।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

 
HAFTE KI BAAT NEWS © 2013-14. All Rights Reserved.
Top